मराठा आरक्षण की आग फिर पहुंच रही आजाद मैदान

मुरारी सिंह ,मुंबई: मुंबई के ठाणे शहर से 20.000 से अधिक किसानों ने थाने से मुंबई के आजाद मैदान में दो दिवसीय मोर्चा की शुरुआत की है ।आपको बता दें कि इस तरह का विरोध 8 महीने पहले किसानों द्वारा किया गया था ।सरकार इस मसले पर कुछ भी बोलने से कतराती रही। जिसके चलते किसान एक बार फिर मुंबई के आजाद मैदान की तरफ निकल चुके हैं ।आपको बता दें कि सरकार अगर इस मामले में कोई गंभीरता नहीं ली तो पहले से ज्यादा नुकसान अब भुगतना होगा, क्योंकि यह किसान महाराष्ट्र अलग-अलग जिलों से दूर-दूर तक पैदल चल कर यहां पहुंचे हैं। आने वाले दो-चार दिनों में इनकी तादात और भी बढ़ सकती है ,जो मुंबई पुलिस को संभालना भारी पड़ सकता है। इस बार मराठी क्रांति मोर्चा के लोग 2 दिन पहले से ही आजाद मैदान में आमरण अनशन पर बैठे हैं ।जिन्हें बीती रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और आज किसानों का एक समूह पैदल चलकर आजाद मैदान पहुंच रहा है जहां सरकार से वार्तालाप कर इस पूरे मसले का निवारण निकालेंगे चाहती है।

 

 

दिवाली पर राज ठाकरे अपने कार्टून किया सार्वजनिक

मुरारी सिंह,मुम्वइः मनसे का कार्टून सार्वजनिक।जिसे लेकर सियासी गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया।
मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने दिवाली पर अपने कार्टून सार्वजनिक किया है, जिसे लेकर सियासी गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे जिस तरह से अपनी तीखी बोली के लिए प्रसिद्ध है वैसे ही वह एक कलाकार भी है वह एक अच्छे चित्रकार भी है दिवाली के पावन मौके पर राजनीति पर निशाना साधते हुए उन्होंने अपनी कार्टून चित्रों की श्रृंखला शुरू की है यह श्रृंखला 6 तारीख से 9 तारीख के बीच में प्रसिद्ध की जा रही है इस श्रृंखला में राजनीति पर तीखे प्रहार करते हुए उन्होंने देश के प्रधानमंत्री मोदी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह नितिन गडकरी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस इन को निशाना बनाया है।
राज के इस व्यंग्यचित्र की खूब चर्चा है। सोशल मीडिया पर भी यह कार्टून छाया हुआ है। राज ने अपने फेसबुक वॉल पर भी यह व्यंग्यचित्र पोस्ट किया है।
 दिवाली त्योहार के अलग-अलग दिनों के अलग-अलग महत्व के अनुसार उन्होंने अपने कार्टून चित्र प्रसिद्ध किए हैं उसमें पहले नरक चतुर्थी के अवसर पर जो चित्र प्रसिद्ध  किया है उसमें उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधा है उन्होंने जो चित्र बनाया है उसमें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को दिवाली के सुबह भाजपा को आए सपने को दिखाया है उसमें उन्होंने अमित शाह को नरकासुर के रूप में दर्शा है इस अवसर पर कांटेदार फल को पैर के नीचे कुचलने की प्रथा है उसमें अमित शाह को ही कांटेदार फल के रूप में दर्शाया है
इसी अवसर को दर्शाने वाले और एक चित्र को राज ठाकरे ने प्रसिद्ध किया है उसमें देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए अभ्यंग स्नान के लिए देवेंद्र फडणवीस बैठे हुए दिखाएं हैं और कोई एक व्यक्ति आकर उनको बता रहा है उनके घर के बाहर महाराष्ट्र की गुस्साई जनता  खड़ी है और वह उन्हें धोने के लिए तैयार है उन्हें अंदर भेजूं क्या यह उनके कान में बता रहा है।
इसी श्रंखला में निकालें अगले चित्र में राज्य के युती सरकार पर निशाना साधा है इस चित्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे किसान परिवार की आरती उतार रहे हैं लेकिन पीछे से किसान महिला बोल रही है कि उन्हें एक पाई भी नहीं देना है।
लक्ष्मी पूजन के महत्व को दर्शाने वाले कार्टून चित्र में भाजपा नेताओं पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को निशाना बनाया है उन्होंने बनाए चित्र में लक्ष्मी माता मोदी गडकरी और फडनवीस इन तीनों नेताओं से बात करती हुई दिखाई है इस चित्र में भाजप के जिन  नेताओं के दीवार पर फोटो लगाए हुए दिखाएं हैं और इन फोटो को देखते हुए लक्ष्मी माता कह रही है बाबा नो पिछले साडे 4 वर्षों में जनता के सामने फेंके गए हजारों लाखों करोड़ों के आंकड़े सुनकर मैं तो हैरान हूं इस चित्र को लक्ष्मी पूजन ऐसा ही शीर्षक दिया हुआ है।
धनत्रयोदशी का महत्व बताने वाला जो चित्र राज ठाकरे ने बनाया है आईसीयू से अंदर भारत को दिखाया है और बाहर कुछ लोग खड़े हैं उनको वह बता रही है कि पिछले साढे 4 सालों में इनके ऊपर बहुत सारा अन्याय हुआ है लोकसभा चुनाव के बाद यह होश में आएंगे।
राज ठाकरे राजनेता के साथ-साथ राज एक अच्छे कार्टूनिस्ट को तौर भी जाने जाते हैं। व्यंग्यचित्र बनाने की कला उन्होंने अपने चाचा शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे से सीखी थी। बालासाहेब जिस तरह से राजनीतिक और सामाजिक हालात को लेकर अपने विपक्षियों पर कार्टून के जरिए हमले बोलते थे, उसी अंदाज में राज के व्यंग्यचित्र भी प्रभावी असर छोड़ते हैं।

कानून को तार-तार करता काका बार

मुरारी सिंह, मुंबई : देश की आर्थिक राजधानी मुंबई शाम होते ही बार बालाओं के जश्न में समा जाती है। यह कोई नई बात नहीं की पुलिस इनके ऊपर कार्रवाई नहीं करती। मुंबई का मलाड इलाका बहुत ही चर्चित इलाका है ,यहां का काका बार हर एक को पता है ।क्यों कि याह बार कानून को ताक पर रखकर पूरी रात बार बालाओं से अश्लील डांस करवाता है ।जिसे देखने के लिए मुंबई के आसपास के व्यापारी बिजनेसमैन और रात के लफंगे इस बारओं में जमकर अय्याशी करते हैं। काका बार किसी पहचान का मोहताज नहीं है। इस बार में कुछ समय पहले धुआंधार गोली चली थी ।जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। बावजूद इसके लाइसेंस और इसकी अश्लीलता के ऊपर कोई असर नहीं पड़ा। जिसके बावजूद आज भी काका बार में कानून को ताक पर रखकर सारी रात बार बालाओं से रंगरलिया कराया जाता है। बीती रात अडिशनल सीपी आरबी माने जापू ब्रांच ने इस बार में छापेमारी कर 14 बार बालाएं और 11 ग्राहकों को गिरफ्तार किया गया ,जबकि 23,250 रूपय एक मेमोरी कार्ड और म्यूजिक सिस्टम जप्त किया किया गया ।इन के ऊपर आई पी सी की धारा 294,114 .34 IPC r/w 3, 8 (1 )(2 )(4 )ऑफ महाराष्ट्र अधिनियम एक्ट के तहत मामला दर्ज कर इन्हें आज कोर्ट में पेश किया जाएगा

फिल्म सिटी में महिला के साथ छेड़छाड़

मुरारी सिंह, मुंबई: मुंबई की फिल्म सिटी में हाउसफुल 4 की शूटिंग के दरमियान एक डांसर महिला के साथ दो लोगों ने जबरजस्ती छेड़छाड़ की ,जिससे गुस्साए कलाकारों ने सैकड़ों की तादात में आधी रात अंबोली पुलिस स्टेशन पहुंच गए। और उनके खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई। हम आपको बता दें कि मुंबई की फिल्म सिटी में सीरियल, फिल्म और आर्टिकल का काम दिन रात चलता है। जिसके लिए देश के कोने-कोने से अपनी कला दिखाने के लिए लोग यहां आते हैं और वह फिल्मों में काम करके अपना गुजारा करते हैं ।लेकिन कुछ गंदे प्रकृति के लोग आए दिन इस तरह की घटनाओं को अंजाम देते हैं। वहीं शिकायत के बाद अंबोली पुलिस ने मामला दर्ज कर सरगर्मी से उन आरोपियों की तलाश कर रही है ,जो हाउसफुल 4 की शूटिंग सेट में घुसकर इन डांसरों के साथ छेड़छाड़ किया है

साईं के दरबार में प्रधानमंत्री

मुरारी सिंह, मुंबई: शिर्डी के साईं बाबा पहुंचे देश के पंतप्रधान नरेंद्र मोदी ने कई परियोजनाओं को दी मंजूरी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री सहित बीजेपी अध्यक्ष वह महाराष्ट्र के राज्यपाल शिर्डी एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री का स्वागत किया और उन्हें साईं बाबा के दरबार ले गए ।जहां प्रधानमंत्री ने बाबा की मजार पर चादर चढ़ाई और शिर्डी के साईं की आरती की जिसके बाद उन्होंने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कई परियोजनाओं को मंजूरी दी है ।आपको बता दें कि देश के पंतप्रधान नरेंद्र मोदी आज महाराष्ट्र के दौरे पर हैं सबसे पहले उन्होंने साईं का दर्शन किया और साईं भक्तों के लिए अनेकों उपहार दिए।

 

बाल-बाल बची महिला कांग्रेस नेता की जान

मुरारी सेंह, मुंबईः आर्थिक राजधानी मुंबई में महिला नेता ही नहीं है सुरक्षित तो महिलाएं कैसे रहेंगे सुरक्षित | कांग्रेस नेता माधुरी ताई राणे पर हमला किया गया | मनीषा ताई रानी कांग्रेस की नेता थे और वह मुंबई के गोरेगांव में अतिथि कुछ अज्ञात लोगों ने पीछे से आकर उनकी पीठ पर तलवार से वार कर दिया , जिसमें वह बुरी तरह से जख्मी हो गई उनके पीठ पर लगी चोट को कई टांके लगे हैं | फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों को सरगर्मी से तलाश रही है |

जबकि कांग्रेस के बड़े नेता महाराष्ट्र के अलग-अलग जिलों से बीजेपी हटाओ संघर्ष यात्रा शुरू किए हैं | वहीं उनके कार्यकर्ताओं पर हमला राजनीति के भी नजरिए से देखा जा रहा है |

बीजेपी पार्षद की गुंडागर्दी

मुरारी सिंह, महाराष्ट्रः महाराष्ट्र के चंद्रपुर महानगर पालिका के आमसभा मे दो पार्षद फिल्मी स्टाइल में भीड गया। चंद्रपुर शहर मनपा में बीजेपी कि सत्ता है विरोधी पक्ष पार्षद द्वारा शहर निवासियों कि मांगो को रखने पर बीजेपी के पार्षद मारने। पर  उतर आते है, हालांकि यह कोई नई बात नहीं है इससे पहले भी महाराष्ट्र के कई राज्यों में इस तरह की घटनाएं प्रकाश में आ चुकी है। काग्रेसी पार्षद जब सभागृह मे शहर के लोगों कि समस्या रखने लगे तो उने बीजेपी पार्षद वसंता देशमुख ने धक्का हि नहीं दिया तो उनके साथ मार पीठ भी की। चंद्रपुर महानगरपालिका में उस समय अफरा-तफरी का माहौल हो गया। जब एक पार्षद दूसरे पार्षद के जान का दुश्मन हो गया राजनेताओं की राजनीति और जनता की सेवा आपसी कलह न बन जाए जिसके लिए राज्य व केंद्र सहित प्रशासन को गंभीरता लेने की जरूरत है।

 

अरे साहब बचा लो आबरू मेरी

मुरारी सिंह, मुंबई : रियल में नकली पुलिस हकीकत में असली पुलिस से मदद मांगी। टीवी सीरियल में पुलिस बानी चंद्रमुखी चौटाला के नाम से मशहूर हो चुकीं एक्ट्रेस कविता कौशिक अब असली पुलिस से मदद मांगी हैं।

एक्ट्रेस की शिकायत है की किसिने उनकी तस्वीरों को मॉर्फ कर सर्कुलेट कर रहा है। इतना ही नहीं कई पोर्न साइट्स पर ये तस्वीरें पोस्ट की जा रहीं हैं।

हालांकि इससे पहले एक्ट्रेस ने अपना सोशल अकाउंट भी डिलीट कर दिया था। लेकिन फिर भी ये सब नहीं रुका और परेशान एक्ट्रेस ने इसकी खबर मुंबई पुलिस के साइबर सेल को दे दी है।

एक्ट्रेस कविता कौशिक के मुताबिक उन्होंने ये कदम इस लिए उठाया है क्यूंकि पिछले कुछ दिनों से उन्हें लगातार फर्जी अश्लील तस्वीरों के जरिए परेशान किया जा रहा था। उन्हें ये बात बिलकुल नागवार गुज़री है की कोई उनके सोशल पेज से ये तस्वीरें उठाकर गलत जगहों पर इस्तेमाल कर रहा है।

और वो चाहकर भी उसे गलत साबित नहीं कर सकती। जिसके बाद उन्होंने परिवार से सलाह मश्वरा कर पहले अपना फेसबुक अकाउंट डिलीट कर दिया फिर इसकी शिकायत भी कर दी है। कविता को लगता है की ऐसा करने वाले लोगों को सजा मिलनी चाहिए ताकि वो किसी को इस तरह बदनाम न करें।

अपना फेसबुक अकाउंट डिलीट करने से पहले कविता कौशिक ने अपनी पोस्ट में लिखा कि ‘फेसबुक एक ऐसा माध्यम है जहां दोस्त भी अंजान लोगों से बहस करते हैं। उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि जैसे देश चलाने के लिए सहयोगी एक राजनीतिक पार्टी तैयार कर रहे हैं.यह सब तो बदलेगा नहीं

यहां सभी एक दूसरे को खराब नजरों से देखते हैं खासतौर पर किसी एक्ट्रेस को ’‘पिछले कई सालों से मैं ऐसी बातों से परेशान हूं। अब ऐसा लगता है कि सभी को अटेंशन चाहिए। ऐसे लोग मुझे नीचा दिखाने की कोशिश करते हैं इसलिए मुझे लगता है कि मैं यहां फिट नहीं हूं।

मेरे यहां से जाने के बाद आप कुछ भी बोल सकते हैं। बाय फेसबुक.. परिवार और दोस्तों। मस्त रहो।’येकोई पहली बार नहीं है जब इस तरह से कविता कौशिक को सोशल मीडिया की वजह से आहात होना पड़ा है।

इससे पहले जब कविता कौशिक ने इंस्टाग्राम पर बिकनी की तस्वीरें शेयर की थीं। उसके बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की थी। जिसका उन्होंने जमकर जवाब भी दिया था। लेकिन इस प्रकरण के बाद कविता ने हमेशा के लिए फेसबुक को अलविदा कह दिया है सोशल नेटवर्क न जाने कितनी आबरू लूटेगा।

नकली ऑफिसर चढ़ा असली ऑफिसर के हत्थे ?…

मुरारी सिंह के साथ उमेश तपासे, महाराष्ट्र के ठाणे जिला:  आयकर तथा पुलिस ऑफीसर बताकर चोरी करने वाले गिरोह को ठाणे पुलिस ने आखिरकार धरदबोचा।

आर्थिक राजधानी मुंबई में इनकम टैक्स ऑफिसर बनकर लोगों को लूटने वाले चार फर्जी पुलिस ऑफिसर को ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया है ।यह गिरोह काफी दिन से सक्रिय था, इसके पीछे ठाणे क्राइम ब्रांच और पुलिस अपनी नज़र गड़ाई हुई थी । महाराष्ट्र के ठाणे में इन्कमटॅक्स ऑफिसर तथा पुलिस ऑफिसर बता कर चार लोगों ने एक मकान से 3 लाख रूपये 10 तोले के सोने के जेवर लूट लिये थे।

ठाणे पुलिस की माने तो 5 अगस्त 2018 कि रात करीब 10 बजे गोबिंद छोटेलाल सिंग के घर चार लोग इन्कमटॅक्स ऑफिसर होने कि बात कर घर मे घुस आए उन्होने लायटर वाली नकली पिस्तौल दिखाकर गोविंद सिंग तथा उनके बीबी को रस्सी से बाद कर तिजोरी से 3 लाख रूपये और 10 तोले के सोने के जेवर लूट लिये

इस मामले कि शिकायत गोविंद सिंग ने काशिमीरा पुलिस थाने में दर्ज़ कराई तब इस मामले कि गम्भीरता को देखते हुए ठाणे ग्रामीण पुलिस अधीक्षक शिवाजी राठोड़ ने अलग-अलग टीम बनाकर तहकीकात शुरु कि तब लोकल क्राइम ब्राच को गोविंद के सोसाइटी के सीसीटीव्हा फुटेज मिले जिसके बाद 26अगस्त को  मुख्य आरोपी फ़ैयाज़ कदर क़ाज़ी (47) को चिंचवड पुणे से गिरफ्तार कर पूछताछ किई गई जिसमें उसने अपने चार साथिदारो कि मदत से इस मामले को अंजाम देने कि बात बताई जिसमें मानव सुशील सिंग (19 ) कनकिया मीरारोड , सोहेब मन्सुर मुन्शी (19) जीसीसी क्लब जवळ मीरा रोड सलीम उर्फ साहील फिरोज अन्सारी ( 21 ) बुरहानपुर राज्य मध्य प्रदेश  इम्रान मुन्ना अली ( 25) मुंब्रा ठाणे इने गिरफ्तार कर इनके पास से 2 लाख 27 हजार रूपये 10 तोला सोने के जेवर आरोपियों द्वारा इस मामले में इस्तेमाल किये गई नकली पिस्तौल हण्डकोल्ज 6 मोबाइल फोन इत्यादि वस्तुओं को बरामदे कर इन आरोपियों द्वारा और भी कोई वारदात में शामिल होने कि शक को दिखते हुए तहकीकात ठाणे पुलिस कर रही है ।

रेलवे स्टेशन है या कुंभ का मेला

मुरारी सिंह, मुंबई: मायानगरी मुंबई सपनों का शहर कहा जाता है लेकिन यहां कब मौत दस्तक दे देगी यह किसी को भी पता नहीं है। मैं बात कर रहा हूं मुंबई की लाइफलाइन व मुंबई की धड़कन कही जाने वाली लोकल ट्रेन की ,लोग घर से तो निकलते हैं अपने काम के लिए लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता कि वह अपने घर सुरक्षित पहुंचेंगे या नहीं । यह वीडियो देखकर आप खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि मुंबई की लोकल ट्रेन में सफर करने का मतलब मौत को दावत, यह तस्वीर मुंबई से सटे ठाणे रेलवे स्टेशन की है समय दोपहर के 11:00 बजे हैं लेकिन प्लेटफार्म पर आप देखोगे तो लोगों की भीड़ कुंभ के मेले के समान है । तो सुबह का नजारा क्या होगा ,इस दरमियान अगर कोई अफरा-तफरी होती है ,तो न जाने कितनी जाने चली जाएंगी ।यह दृश्य केवल आज ही नहीं बल्कि हर दिन ऐसा ही होता है ।दिन प्रतिदिन लोगों की तादाद बढ़ती जा रही है ।लेकिन रेलवे इस मामले में कोई गंभीरता लेती दिखाई नहीं देती ,आखिर कब तक जन सैलाब से छुटकारा मिलेगा मुंबई कर को यह देखना दिलचस्प होगा।