दिल्ली में कांग्रेस-आप का कोई गठबंधन नहीं

एएनएम न्यूज़ डेस्क: पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में कांग्रेस के साथ गठबंधन बनाने के लिए AAP द्वारा नए सिरे से बोली लगाने के कुछ घंटों बाद केजरीवाल की टिप्पणी आई। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस बात की पुष्टि की कि कांग्रेस आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं करेगी और ये कहेगी की दोनों एक-दूसरे के साथ बातचीत में अधिक नहीं थे।

भूस्खलन और शूटिंग पत्थरों के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग में यातायात बाधित

यवर शफी, श्रीनगर: कश्मीर के मैदानी सतह के निचले हिस्सों में हल्की बूंदाबूंदी हुई, जिससे श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग भारत के बाकी हिस्सों को घाटी से जोड़ता है, ताजा भूस्खलन और शूटिंग पत्थरों के कारण यातायात की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया है।

ट्रैफिक पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, “हमने बुधवार सुबह रामनगर और रामसू के बीच पंथाल और अन्य स्थानों पर भूस्खलन और शूटिंग पत्थरों के कारण श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर यातायात आंदोलन को निलंबित कर दिया है।”

लोकसभा चुनाव में बसपा प्रमुख मायावती का बड़ा फैसला

एएनएम न्यूज़, डेस्क: बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने आज बड़ा एलान करते हुए कहा कि वह इस बार लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। लोकसभा चुनावों के लिए समाजवादी पार्टी से गठबंधन करने वाली बसपा प्रमुख मायावती ने बुधवार को कहा कि वह चुनाव तो नहीं लड़ेंगी, लेकिन बसपा के सभी कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा की वे भाजपा को हराने के लिए एकजुट हों।

मायावती ने पार्टी दल से यह भी अपील कि की दलों के समर्थकों को आपसी मतभेद और गिले शिकवे भुलाकर जी-जान से अहंकारी व जातिवादी भाजपा सरकार को हराने के लिए काम करना है। मेरी जीत की जिम्मेदारी कार्यकर्ताओं की है, वह पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगी, बाद में यदि जरूरत पड़ी तो वह किसी भी सीट से चुनाव लड़ सकती हैं।

मायावती ने दावा किया कि गठबंधन को सर्वसमाज का भारी समर्थन मिल रहा है। मायावती ने कांग्रेस को धोखेबाज बताया और नाराजगी जताई मायावती भाजपा पर ज्यादा हमलावर रहीं। उन्होंने कहा कि भाजपा की जातिवादी, सांप्रदायिक व गरीब-मजदूर विरोधी नीतियों से जनता पीछा छुड़ाना चाह रही है। जनता ऐसी भाजपा सरकार को दूर से राम-राम करेगी। हार के डर से भाजपा नेता अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं।

लोकसभा चुनावी बिगुल में झारखंड की सीटों पर भाजपा करेगी फैसला : 22 मार्च

एएनएम न्यूज़, डेस्क: मंगलवार को हुई नई दिल्ली में हुई पार्टी की बैठक में बड़े राज्यों के उम्मीदवारो पर चर्चा हुई जहां खासकर पहले और दूसरे चरण में मतदान है। लोकसभा चुनाव के लिए झारखंड की सीटों से भाजपा उम्मीदवारों का फैसला अब 22 मार्च की बैठक में होगा। झारखंड में मतदान की शुरुआत चौथे चरण से होनी है इसलिए इसपर फैसला टाला गया है। इसके पूर्व टिकट बंटवारे की एक्सरसाइज भाजपा में पूरी हो गई है।
मुख्यमंत्री रघुवर दास मंगलवार को नई दिल्ली गए और चुनाव से संबंधित चर्चाओं में वे शीर्ष नेताओं के साथ शामिल हुए। दरअसल, झारखंड में भाजपा का सीधा मुकाबला महागठबंधन से ही होगा। इसीलिए महागठबंधन को लेकर भाजपा कुछ ज्यादा ही गंभीर है। प्रदेश भाजपा ने संभावित प्रत्याशियों पर रांची के साथ-साथ दिल्ली में भी काफी मंथन किया है।

भाजपा गठबंधन की सूची फाइनल होने का इंतजार कर रही है। चुनाव की घोषणा के बाद के सर्वे में भी झारखंड से जो रिपोर्ट आई है, उसमें यूपीए कुछ भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। हालांकि, प्रत्यक्ष तौर पर भाजपा महागठबंधन की चुनौती को नकार रही है और एनडीए के सभी 14 सीटों पर जीत का दावा भी कर रही है।

झारखंड में चौथे चरण से चुनाव की प्रक्रिया शुरू होगी। इसलिए उम्मीदवारों की घोषणा को लेकर भाजपा को कोई हड़बड़ी भी नहीं है। पार्टी होली के बाद ही सीटों के बंटवारे की घोषणा करेगी।

भाकपा माले के प्रत्याशियों का चुनावी संघर्ष

एएनएम न्यूज़, डेस्क: भाकपा माले राज्य कमेटी ने तय किया है कि पार्टी पलामू व कोडरमा में प्रत्याशी खड़ा करेगी। शेष सीटों पर वाम दल के प्रत्याशियों का समर्थन करेगी। मंगलवार को राज्य कमेटी की बैठक पार्टी कार्यालय में हुई, इसमें कहा गया कि गठबंधन वाले कोडरमा संसदीय क्षेत्र को हजारीबाग क्षेत्र के खिलाफ खड़ा करने की कोशिश हो रही है। माले कोडरमा में मजबूती से चुनावी संघर्ष में खड़ा है। माले 25 मार्च को राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य की उपस्थिति में प्रत्याशियों की घोषणा करेगा। इसी दिन पार्टी का घोषणा पत्र भी जारी होगा। बैठक में 23 मार्च को भगत सिंह जयंती को संकल्प दिवस के रूप में मनाने का निर्णय हुआ।

चोरो की चालाकी आई सीसीटीवी फुटेज में नज़र

लोकेश व्यास, एएनएम न्यूज़, जोधपुर: बूंदी शहर में गिरीश नगर में लम्बे समय से चोरी की वारदातों का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है।ऐसे में सोमवार रात को भी चोरो ने एक सुने मकान में लाखो के जेवरात सहित 80 हजार की नकदी पर किया हाथ साफ, इसके अलावा दी अन्य केबिनों के भी ताले तोड़े गये लेकिन वहां उन्हें कुछ हाथ नही लगा ,सुचना मिलने पर सदर थाना पुलिस ने मौके पर मुआयना कर सीसीटीवी फुटेज के आधार पर नजर आ रहे दोनो संदिग्धों की तलाश शुरू कर दी है।

महात्मा गाँधी अस्पताल की दयनीय स्तिथि का वीडियो हुआ वायरल

लोकेश व्यास, एएनएम न्यूज़, जोधपुर: विभिन्न योजनाओं के माध्यम से आम जनता को समुचित इलाज उपलब्ध कराने का दावा करने वाली सरकारों के दावे जमीनी हकीकत पर खोखले साबित हो रहे हैं। प्रदेश के दूसरे बड़े शहर जोधपुर के सबसे बड़े अस्पताल महात्मा गांधी अस्पताल में व्यवस्थाओं को एक्सपोज करने वाला एक वीडियो वायरल हुआ है। ऑर्थोपेडिक्स वार्ड का यह वीडियो अस्पताल की व्यवस्थाओं को बयां कर रहा है । ऑर्थोपेडिक्स में जांच के लिए आने वाले मरीजों को स्ट्रेचर तक उपलब्ध नहीं होता है जिसके चलते परिजन मरीज को गोद में उठाकर लाने को मजबूर होते हैं। कई बार परिजन मरीज को जमीन पर रगड़ कर ले जाते हैं। दर्द से कराहते हुए मरीजों की आवाज सुनने के बाद भी अस्पताल के जिम्मेदार कर्मचारियों के कानो पर जूं तक नहीं रेंगता है। जब उन्होंने अस्पताल कर्मियों से स्ट्रेचर देने की मांग की तो उन्होंने स्ट्रेचर देने से साफ़ मना कर दिया। वहीं अस्पताल अधीक्षक ने भी माना कि इस तरह की लापरवाही वास्तव में शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्थाओं को सुधारने का प्रयास किया जाएगा और इस घटना क्रम में जो भी दोषी है उसकी जांच करवाई जाएगी।

होली पर भी चढ़ा चुनावी बुखार

लोकेश व्यास, एएनएम न्यूज़, जोधपुर: लोकसभा चुनाव के बीच होली का यह त्यौहार चुनावी रंग में डूबा हुआ नजर आ रहा है। ऐसे में रंगो का त्योहार होली कैसे अछूता रह सकता है। मतदाताओं को अपने पक्ष में करने में जुटे पार्टी के कार्यकर्ता होली के इस मौके को भुनाने में जुटे हैं। राजनीतिक पार्टियों की मांग पर अब चंग बनाने वालों ने भी भाजपा और कांग्रेस के लिए अलग-अलग चंग बनाए हैं । इन्हीं चंग की थाप पर पार्टी के यह कार्यकर्ता घर-घर जाकर होली के गीत गाएंगे साथ ही अपनी अपनी पार्टियों के पक्ष में चुनाव प्रचार करते भी नजर आएंगे।
पश्चिमी राजस्थान में होली के दिनों में आम लोग फाल्गुन के गीत गाते हैं। लेकिन इस बार फाल्गुन के गीतों की मस्ती ही कुछ अलग होगी। इस बार चुनाव और होली साथ साथ होने से लोगों में काफी उत्साह है। इस बार लोकसभा चुनाव के लिए भी तैयारियां जोर शोर से हो रही है। आम लोग हो या दुकानदार सभी चुनावी रंग में रंग रहे हैं। इस बार लोकसभा चुनाव और होली दोनों को देखते हुए जोधपुर के एक दुकानदार ने कुछ हटकर भाजपा और कांग्रेस के लिए अलग-अलग चंग बनाए हैं । बाजार में मोदी चंग (डफली) और राहुल चंग (डफली) की काफी डिमांड है । दुकानदार ने बताया कि होली पर गैर गाने के साथ ही लोग चंग बजाते हैं इसको देखने सुनने के लिए लोग इकट्ठे होते हैं तो इस बार चुनावी माहौल में आम लोगों में अपना प्रचार प्रसार नए तरीके से कर रहे हैं। अब यह देखने वाली बात होगी की कौन सी पार्टी का चंग चुनाव परिणामों में बजता है।

दलाई लामा का उत्तराधिकारी भारत से भी हो सकता है

एएनएम न्यूज़ डेस्क: आध्यात्मिक नेता, दलाई लामा ने वर्णित किया था की चीन को सफलपूर्वक देश बनाने के लिए चीन के लिए जो भी उत्तराधिकारी चुने जाएंगे वो उत्तराधिकारी को भारत से चुने जाने की संभावनाएं थीं। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि चीन द्वारा जो भी उत्तराधिकारी चुने जाएंगे उनपर न तो भरोसा किया जाएगा और न ही उसका सम्मान किया जाएगा।

तिब्बती परंपरा कहती है कि दलाई लामा अपनी मृत्यु के बाद पुनर्जन्म लेते हैं और वंहा एक नए व्यक्ति को उत्तराधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाता है। हालाँकि, चीन का दावा है कि उसके पास यह तय करने का अधिकार है कि कौन धार्मिक नेता सफल होता है। चीन के 14 वें दलाई लामा को एक स्वतंत्र तिब्बती राज्य को बढ़ावा देने वाला अलग केंद्र मानता है।

दलाई ने यह भी बताया था कि उन्होंने चीन जाने से इनकार कर दिया, क्यूंकि यह कम्युनिस्ट शासन के अधीन था यंहा कोई स्वतंत्रता नहीं थी।

महागठबंधन लोकसभा सीटों के बंटवारे पर सहमति, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद हेमंत सोरेन ने किया ऐलान

एएनएम न्यूज़, डेस्क: झारखंड में महागठबंधन के बीच लोकसभा सीटों के बंटवारे पर सहमति बन गई है। शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इसकी घोषणा कि और कहा की होली के बाद रांची में झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन के आवास पर इसका औपचारिक ऐलान होगा। हेमंत और आरपीएन ने मीडिया से बातचीत में दावा किया कि सीटों के बंटवारे से संबंधित सभी विवाद सुलझा लिए गए हैं। हेमंत सोरेन ने वामदलों को भी गठबंधन से जोड़ने की बात कही। गठबंधन के तहत चुनाव लड़ने में कोई संशय नहीं रह गया है। हालांकि, आरपीएन सिंह ने कहा कि वामदल पहले किसी सीट पर एकमत हो जाएं।

कांग्रेस नेतृत्व के बुलावे पर पूर्व मुख्यमंत्री और झारखंड विकास मोर्चा के प्रमुख बाबूलाल मरांडी भी दिल्ली पहुंच गए थे। शनिवार को प्रदेश कांग्रेस प्रभारी और हेमंत सोरेन के साथ बैठक में उन्होंने भी हिस्सा लिया। बाबूलाल मरांडी की मौजूदगी में सीटों के बंटवारे पर आपसी सहमति बनी है। गोड्डा सीट की झाविमो की मांग भी पूरी हो गई है। तीनों दलों के नेताओं ने प्रदेश की सभी 14 लोकसभा सीटों पर एक-एक वहां की राजनीतिक परिस्थिति पर चर्चा की। पहले से तय फॉर्मूले कांग्रेस को सात, झामुमो को चार, झाविमो को दो और राजद को एक सीट देने को एकराय से हरी झंडी दी गई।

हर दल के खाते में गई सीटों की सार्वजनिक घोषणा की जाएगी। विपक्षी पार्टियां महागठबंधन के उम्मीदवारों को सहयोग की अपील जनता और अपने कार्यकर्ताओं से करेगी। मार्च के अंत तक कांग्रेस, झामुमो, झाविमो और राजद अपने उम्मीदवारों की भी घोषणा करेगी। अगर वामदलों के साथ बात बन गई तो उन्हें भी एक सीट मिल सकती है।