बीती रात मुंबई में मौत की बारिश


मुरारी सिंह, एएनएम न्यूज़, मुंबई: 10 जून की पहली बारिश कांदिवली ईस्ट समता नगर पुलिस स्टेशन इलाके के पोइसर वाशियो के लिए आफत की बारिश बन गई। इस बारिश में 2 बच्चो की मौत हो गई जिसका कारण बना झोपड़पट्टी के घरों में पहुँचता बिजली का खुला तार। मुंबई की पहली बारिश रात करीब साढ़े 8 बजे आई जहां लोग अपने अपने घरों से निकलकर बारिश का मजा ले रहे थे वही पोइसर इलाके के चौहान चाल का रहने वाला तुषार आशुतोष झा 11 वर्षीय और ऋषभ गौरीशंकर तिवारी 9 वर्षीय बारिश में अपने घर की तरफ जा रहे थे। उसी दौरान चौहान चाल में जाने की गल्ली विमला देवी मार्कण्डेय चाल और ओमकार सिंह चाल करीब डेढ़ फीट पानी का जमाव हुआ था जिसमे चलकर ऋषभ और तुषार जा रहे थे, जल भराव के कारण दोनो गल्ली में लगी लोहे की सीढ़ियों को पकड़कर चल रहे थे वही पानी भराव और बारिश के कारण मार्कण्डेय चाल की एक सीढ़ी में बिजली का करंट फैल गया था जिसके संपर्क में आते ही तुषार और ऋषभ को झटका लगा और दोनो सीढ़ी में ही चिपक गए।

जिसको देख बचाने के प्रयास में एक लड़की और पुरुष को भी जोरदार करंट के झटके लगे जो बेसुध होकर वहां से भाग खड़े हुए। करंट की चपेट में आकर ऋषभ और तुषार दोनो गल्ली में भरे डेढ़ फीट पानी में डूब गए। जब तक बारिश का पानी कम होता तबतक दोनो बच्चे पानी मे ही गिरे रहे। जब जल जमाव कम हुआ तो दोनो बच्चो को लोगो ने देखा और स्थानीय समता नगर पुलिस की मदद से ठाकुर काम्प्लेक्स के साई हॉस्पिटल लेकर गए जहां डॉक्टर ने दोनो बच्चो को मृत घोषित कर दिया।

इस पूरे मामले की जानकारी में पोइसर भाजपा वार्ड अध्यक्ष रमन मिश्रा ने बताया कि पोइसर में करीब 2 हजार बिजली के बॉक्स ऐसे हैं जो बारिश के समय पानी मे डूबे रहते है। जिनमे बिजली का करंट लगने की पूरी संभावना रहती है लेकिन अडानी और मनपा कर्मचारियो को कोई फर्क नही पड़ता है। पोइसर में बिजली के बॉक्स भी जमीन से करीब 2 फ़ीट ऊपर लगाए गए है जिनमे बारिश का पानी भरता है। जिसकी वजह से भी करंट लगने का अंदेशा रहता है।


NameE-mailWebsiteComment

Leave a Reply