काबुल में 6 आईएसआईएस के आतंकवादी गिरफ्तार

एएनएम न्यूज़, डेस्क: अफगानिस्तान राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय ने पुष्टि की है कि उन्होंने काबुल में आईएसआईएस के 6 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। इस संगठन ने कल काबुल पर हुए आतंकवादी हमलों की जिम्मेदारी ली है जिसमे 6 की मौत हो गई जबकि 23 घायल हो गए। गिरफ्तार किए गए आतंकवादीयो में 2 आत्मघाती हमलावर है। वे शहर में नौरुज़ के आयोजन दौरान हमले की योजना बना रहे थे।

क्रॉस बॉर्डर शेलिंग: घायल नागरिक की अस्पताल में मौत

यवर शफी, एएनएम न्यूज़, श्रीनगर: इस महीने की शुरुआत में उत्तरी कश्मीर के उरी सेक्टर में पाक गोलाबारी में एक नागरिक को जान गवानी पड़ी। गंभीर रूप से घायल नागरिक ने एसकेआईएमएस सौरा में दम तोड़ दिया। इस महीने की शुरुआत में सीमा पार से गोलाबारी में घायल हुए श्रीनगर के अस्पताल में सदर दीन के पुत्र रेयाज अहमद (32) ने बातर कुंडी बरजाला कमलकोट के निवासी की मौत हो गई थी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने भी मौत की पुष्टि की और कहा कि उसके साथ घायल हुए तीन अन्य व्यक्ति स्थिर हैं। मुख्य रूप से, 10 मार्च को क्रॉस बॉर्डर गोलाबारी में चार नागरिक घायल हो गए थे, जिनमें से दो को बाद में अग्रिम इलाज के लिए SKIMS सौरा रेफर किया गया था।

ब्रिटेन की अदालत ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया

एएनएम न्यूज़, डेस्क: लंदन की एक अदालत ने आभूषण डिजाइनर नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है, जो कि 2 अरब डॉलर के पीएनबी घोटाला मामले में मुख्य आरोपी है। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसी को मोदी के खिलाफ वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट द्वारा वारंट जारी करने के बारे में सूचित किया गया है और उन्हें जल्द ही स्थानीय पुलिस द्वारा औपचारिक गिरफ्तारी की उम्मीद है।

मोदी को जमानत देने के लिए अदालत में पेश किया जाएगा और उसके प्रत्यर्पण के लिए कानूनी कार्यवाही उसके बाद शुरू होगी। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि यूनाइटेड किंगडम के गृह सचिव साजिद जाविद ने डायनामेंट के खिलाफ कानूनी कार्यवाही शुरू करने के लिए मोदी को एक अदालत में प्रत्यर्पित करने के लिए भारत के अनुरोध का उल्लेख किया था। एक ब्रिटिश दैनिक ने हाल ही में एक रिपोर्ट और वीडियो प्रकाशित किया था जिसमें मोदी को लंदन की सड़कों पर घूमते हुए दिखाया गया था।

नंदगांव में हुरियारे ने दिखाया जोर जमकर बरसाई लठ्ठ

योगेश भरद्वाज, एएमएम न्यूज़, बरसाना: आज नंदगाँव में  हुआ लट्ठमार होली का हुआ आयोजन, बरसाना के हुरियारों ने नंद गांव की हुरियारिनो से खेली होली, लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे नंदगांव ,सुरक्षा व्यवस्था के किए पुख्ता रहे इंतजाम, भगवान श्री कृष्ण के समय से चली आ रही है परंपरा। ब्रज की अद्भुत होली का उल्लास जारी है। आज नंदगांव में लठमार होली खेली गई। बरसाना की लठमार होली के अगले दिन यानी फाल्गुन शुक्ला दशमी को बरसाना के हुरियारे नंदगांव की हुरियारिनों से होली खेलने उनके यहां पहुंचते हैं। यहां नंदभवन में होली की खूब धूम मचती है। राधाकृष्ण के प्रेम की प्रतीक यह दोनों उत्सव अपने आप में अद्भुत और दिव्य हैं।

नंदगांव यानी भगवान कृष्ण की लीला स्थली। नंदगांव राधारानी के गांव बरसाना से केवल आठ किलोमीटर दूर है।  बरसाना में लठामार होली कल खेली गई थी। जहाँ नंदगांव के हुरियारे बरसाना पहुंचे थे,उन्होंने राधा रानी के गांव की हुरियारिनों के संग परंपराओं को निभाते हुए होली खेली थी। आज बरसाना के हुरियारे नंदगांव पहुंचेंगे और वहां की हुरियारिनों संग लठामार होली खेली। बरसाना के हुरियारों के स्वागत के लिए नंदभवन को भव्य रूप से सजाया गया है। नंद गांव वासी बेसब्री से बरसाना के हुरियारों को इंतजार कर रहे हैं। हर तरफ होली का उल्लास था। बरसाना के हुरियारो  को आने के बाद फ़िर शुरु हुआ लट्ठामार होली का  विहंगम दृश्य।

राधाकृष्ण की अलौकिक होली लीला देखने के लिए भगवान सूर्य भी कुछ क्षण के लिए स्थिर हो जाते हैं। मान्यता है कि जब तक गोपियां हुरियारे और कान्हा के साथ होली नहीं खेलतीं तब तक सूर्य नहीं छिपता है। वाकई अगर आपने बरसाना और नंदगांव की होली नहीं देखी तो कुछ नहीं देखा। यहां की होली में प्रेम बरसता है। परंपराओं का गुलाल उड़ता है। अगर संबंधों को निभाना सीखना है तो ब्रज वालों से सीखिए। नंदगांव के लोगों में सखा भाव और बरसाने में सखी भाव की मिठास आज भी जीवंत है।

अज़हर मसूद मामले में भारत चीन के साथ कोई वार्ता करने के पक्ष में नहीं

एएनएम न्यूज़, डेस्क: भारत सरकार ने कहा कि वह जेएनएम के प्रमुख मसूद अजहर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों पर अपना समर्थन हासिल करने के लिए किसी भी बातचीत के लिए नहीं जाएगी और न ही चीनी सरकार के साथ समझौता करेगी। भारत ने कहा कि यह धीरज से काम करता रहेगा लेकिन जब तक मंजूरी को अंतिम रूप नहीं दिया जाता, तब तक चैन से नहीं बैठेगा।

चीन ने अजहर को फिर से ब्लैकलिस्ट करने के कदम को रोक दिया था, लेकिन भारत ने वह उपलब्धि हासिल करने की ठानी है, जिसके परिणामस्वरूप मसूद अजहर को संपत्ति फ्रीज, यात्रा प्रतिबंध और हथियारों की मार झेलनी पड़ेगी।

इंडोनेशिया के पापुआ प्रांत में फ्लैश फ्लड कम से कम 42 की मौत

एएनएम न्यूज़, डेस्क: इंडोनेशिया के पूर्वी प्रांत पापुआ में बाढ़ ने कम से कम 42 लोगों की जान ले ली है और 21 अन्य लोगों को बुरी तरह से घायल कर दिया है। प्रांतीय राजधानी जयापुरा के पास का सेंटीनी क्षेत्र शनिवार से मूसलाधार बारिश की चपेट में आ गया है, जिससे बाढ़ आई है, अधिकारी, कोरी सिमबोलन ने कहा। राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुरवो नुगरोहो ने कहा कि बाढ़ से कम से कम नौ घर और दो पुल क्षतिग्रस्त हो गए, उन्होंने कहा कि सभी प्रभावित क्षेत्रों में अभी तक खोज और बचाव दल नहीं पहुंचा है।

इंडोनेशिया में बाढ़ असामान्य नहीं है, खासकर बारिश के मौसम के दौरान जो अक्टूबर से अप्रैल तक चलती है। जनवरी में, सुलावेसी द्वीप पर बाढ़ और भूस्खलन से कम से कम 70 लोगों की मौत हो गई, जबकि इस महीने की शुरुआत में पश्चिम जावा प्रांत में सैकड़ों लोगों को बाढ़ से बचने के लिए मजबूर होना पड़ा था।

प्रधानमंत्री जैसिंडा आर्डर्न ने बंदूक कानूनों को सख्त बनाने की शपत ली

एएनएम न्यूज़, डेस्क: न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा आर्डर्न ने देश के बंदूक कानूनों को सख्त बनाने की शपत ली है। क्राइस्टचर्च मस्जिद हत्याकांड के पीछे आरोपियों ने कानूनी तौर पर पांच हथियार हासिल किए थे, जिनमें दो सेमि आटोमेटिक राइफलें थीं। आरोपी 28 वर्षीय ब्रेंटन टैरंट ने नवंबर 2017 में बंदूक लाइसेंस प्राप्त किया था।

प्रधान मंत्री ने कहा कि कुछ बंदूकों को घातक बनाने के लिए संशोधित किया गया था जिससे वो और अधिक घातक सिद्ध हो इन कारणों से सेमि आटोमेटिक हथियारों पर प्रतिबंध माना जाएगा।

भारत फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप की मेजबानी करेगा

एएनएम न्यूज़, डेस्क: ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ) के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल ने ट्विटर पर पुष्टि की कि भारत 2020 में फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप की मेजबानी करेगा। यह कदम भारतीय फुटबॉल को बढ़ावा देने यह पहली बार होगा जब देश की राष्ट्र U-17 महिलाओं की टीम को आयोजन में सीधी एंट्री मिलेगी।

भारत में पहले से ही फीफा मानकों से मेल खाते फुटबॉल स्टेडियम हैं क्योंकि देश ने 2017 में फीफा अंडर -17 पुरुष विश्व कप की मेजबानी की थी।

प्रवासियों और शरणार्थियों को निशाना बनाया गया था: पीएम अर्डर्न

हमारे संवाददाता, क्राइस्टचर्च:क्राइस्टचर्च में दो धार्मिक स्थलों पर नृशंस आतंकवादी हमले में मृतकों में से अधिकांश श्रीलंका और बांग्लादेश जैसे दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के प्रवासी और शरणार्थी हैं। पुलिस आयुक्त माइक बुश ने कहा कि अल नूर में 30 लोगों की मौत हो गई है जबकि लिनवुड इस्लामिक सेंटर में 10 लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में ज्यादातर श्रीलंका और बांग्लादेश के प्रवासी हैं। ये प्रवासी बेहतर अवसरों के लिए न्यूजीलैंड पहुंचे थे, धमाके में जीवित बचे व्यक्ति ने नाम न प्रकसित के शर्त पर दावा किया है की उसका वीजा बहुत पहले ही समाप्त हो चुका है फिर भी वह एक स्थानीय स्थान पर नौकरी कर रहा है। पीएम जैकिंडा अर्डर्न ने हमलावर की प्रेरणा की बात करते हुए कहा कि पीड़ितों में शरणार्थी और प्रवासी शामिल हो सकते हैं। “वह हम में से एक हैं,” उन्होंने कहा, अपराधी कहने से पहले “न्यूजीलैंड में कोई जगह नहीं है। न्यूजीलैंड पुलिस द्वारा प्रारंभिक जांच से संकेत मिलता है कि हमलावरों ने प्रवासियों और शरणार्थियों को निशाना बनाया था।

पीएम: क्राइस्टचर्च गोलीबारी में 40 लोग मारे गए

क्राइस्टचर्च से हमारे संवाददाता :न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च के दो धार्मिक स्थलो पर हुए भयंकर हमले में कम से कम 40 लोगों की मौत हो गई है। प्रधान मंत्री जैसिंडा आर्डेन ने मरने वालों की संख्या की पुष्टि की और इसे एनजेड इतिहास में सबसे बड़ा आतंकवादी हमले के रूप में करार दिया। सरकार ने क्राइस्टचर्च में लॉक डाउन की घोषणा की है और सभी निवासियों को घर के अंदर रहने की अपील की है। पूरा शहर दहशत की स्थिति में है और लोग अपने परिजनों और बच्चे अपने परिवारों से बिछड़ गए हैं। पुलिस और सरकारी अधिकारी सड़कों पर मुस्तैदी से काम कर रहे हैं और सरकार ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।