राज ठाकरे के समर्थन में एनसीपी नेता व विरोधी पक्ष नेता धनंजय मुंडे का बड़ा बयान

मुरारी सिंह, एएनएम न्यूज, मुंबई: एनसीपी व विरोधी पक्ष नेता धनंजय मुंडे ने बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए राज ठाकरे के सम्बन्ध में सरकार की आलोचना की। धनंजय मुंडे ने आरोप लगाया है कि लोकसभा चुनाव में मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने जिस तरीके से अमित शाह और नरेंद्र मोदी के खिलाफ महाराष्ट्र भर में प्रचार किए और एनसीपी कांग्रेस को समर्थन किए यह बात बीजेपी को हजम नहीं हुई। यही वजह है की बेवजह राज ठाकरे को ईडी का डर दिखाकर दबाया जा रहा है। हाल ही में ईवीएम के मसले को लेकर दिल्ली चुनाव आयोग से मुलाकात की थी। साथ ही उन्होंने कांग्रेस की मुखिया सोनिया गांधी के साथ भी वार्तालाप की थी।उसके बाद उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से भी मुलाकात की जिसके चलते बीजेपी की नींद उड़ गई और वह मनसे प्रमुख राज ठाकरे को दबाने के लिए ईड़ी का डर दिखाया जा रहा है। यह सरकार सरकारी यंत्रना का दुरुपयोग कर रहा है ,ऐसा आरोप विरोधी पक्ष नेता धनंजय मुंडे ने लगाया है।

भाजपा को सभोन की जरूरत है क्योंकि हमारे पास बंगाल में पर्याप्त नेता नहीं हैं: दिलीप घोष

मोनिशा मंडल, एएनएम न्यूज़, कोलकाता: आखिरकार भाजपा ने स्वीकार किया की चुनाव लड़ने के लिए उनके पास पर्याप्त नेता नहीं है और इसलिए वे टीएमसी नेताओं पर डोरे दाल रहे है। मीडिया से बात करते हुए, पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष, दिलीप घोष ने स्वीकार किया कि चुनाव जीतने के लिए उनके पास पार्टी में पर्याप्त नेता नहीं हैं। टीएमसी नेता सभोन चटर्जी के घोटाले को गलत ठहराते हुए घोष ने अपने पिछले स्टैंड से 360 डिग्री यू टर्न लेते हुए यह प्रमाणित किया कि चटर्जी एक अनुभवी राजनीतिक नेता हैं और बीजेपी के लिए “एसेट” होंगे। घोष ने कहा कि चटर्जी के भाजपा में शामिल होने से भगवा ब्रिगेड की ताकत बढ़ेगी। हालांकि घोष ने कहा कि कानून अपना कार्य करेगी लेकिन उन्होंने यह  संकेत दिए की टीएमसी के बागी नेता के भाजपा के खेमे में चले जाने के बाद ईडी और सीबीआई सोवन पर धीमी गति से जा सकते हैं।

देबोश्री को देख बिफरे सभोन दी भाजपा से बाहर निकलने की धमकी

एएनएम न्यूज़ संवाददाता, दिल्ली: भाजपा में शामिल होने के कुछ समय बाद, घोटाले में घिरे कोलकाता के पूर्व मेयर सोभन चटर्जी को बीजेपी को ब्लैकमेल किया और अजीब बात यह थी भगवा पार्टी भी सोभन द्वारा ब्लैकमेल हुई। कभी सोभन की करीबी लोकप्रिय अभिनेत्री और टीएमसी विधायक को भी नई दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में देखा गया। जिसके बाद ही एएनएम न्यूज ने सोभन और ऊके करीबी दोस्त बैसाखी को कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय के साथ ऊँची आवाज़ में बातचीत करते हुए कैमरे में क़ैद किया।

भाजपा मुख्यालय की निजी सूत्रों ने एएनएम न्यूज़ को बताया कि सोभन ने भाजपा नेताओं से कहा कि अगर देबोश्री भगवा पार्टी में शामिल होते हैं तो वह भाजपा छोड़ देंगे। बैशाखी को स्पष्ट रूप से परेशान देखा गया क्योंकि सोभन अपने बात पर अड़े रहे। उन्होंने कहा, “आपको मेरे या देबोश्री में से किसी एक को चुनना होगा।” बीजेपी नेताओं में देबोश्री रॉय को पार्टी में शामिल करने को लेकर असमंजश की स्थिति थी वही देबोश्री रॉय पार्टी में शामिल होने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रही थी। यह नाटक आधे घंटे के लिए चला क्योंकि सोभन अपने बात पर अड़े रहे और भाजपा मुख्यालय से बाहर निकलने और अपनी और बैसाखी के नामकरण में शामिल होने से पीछे हटने की धमकी दी। मझधार में फंसे बीजेपी नेताओं ने सोभन की धमकी के आगे घुटने तक दिए और देबोश्री रॉय को शामिल करना स्थगित कर दिया।

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने CBSE द्वारा परीक्षा शुल्क बढ़ाए जाने का किया विरोध

एएनएम न्यूज़, डेस्क: ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मंगलवार को केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से आग्रह किया कि सीबीएसई से कक्षा 10 व 12 के छात्रों की परीक्षा शुल्क में बढ़ोतरी पर पुनर्विचार करने को कहें। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने हाल में कक्षा 10 व कक्षा 12 के छात्रों की परीक्षा शुल्क में बढ़ोतरी की घोषणा की है।

नवीन पटनायक ने एचआरडी मंत्री को लिखे एक पत्र में कहा, “असमान्य रूप से अनुसूचित जाति (एससी) व अनुसूचित जनजाति (एसटी) के छात्रों के शुल्क में 24 गुना बढ़ोतरी हैरान करने वाली है।” उन्होंने कहा कि ओडिशा सरकार ने 200 से ज्यादा अंग्रेजी माध्यम के मॉडल स्कूलों को ग्रामीण क्षेत्रों में खोला हैं, जो सीबीएसई से संबद्ध हैं। इन स्कूलों को ग्रामीण इलाकों में आर्थिक व समाजिक रूप से वंचित वर्गो के लिए खोला गया है। एससी व एसटी छात्रों के लिए सीबीएसई ने परीक्षा शुल्क 50 रुपये से बढ़ाकर 1200 रुपये कर दिया है। इसी तरह से सामान्य श्रेणी के छात्रों को पहले 750 रुपये देने होते थे और उन्हें पांच विषयों के लिए 1500 रुपये का भुगतान करना होगा।

वायनाड में का दौरा कर स्थिति की समीक्षा करेंगे राहुल गांधी

एएनएम न्यूज, डेस्क: केरल में पिछले कुछ दिनों से हो रही बारिश से यहाँ कई लोगों की जान भी जा चुकी है। केरल का वायनाड सबसे ज्यादा बाढ़ प्रभावित इलाका है। यहां से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने हालात पर चिंता जाहिर की है। राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा कि अगले कुछ दिन वह अपने संसदीय क्षेत्र में रहेंगे और राहुल गांधी ने ट्वीट करके लिखा कि वायनाड में पिछले कुछ दिनों से बाढ़ की वजह से लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। मैं अगले कुछ दिन यहां के कैंप का दौरा करूंगा और स्थिति की समीक्षा करूंगा। साथ ही लोगों की मदद के लिए क्या कदम उठाए गए हैं इसको लेकर जिला और राज्य के अधिकारियों से बात करूंगा।

पश्चिम बंगाल में फिर माकपा और कांग्रेस ने मिलाया हाथ

एएनएम न्यूज, डेस्क: पश्चिम बंगाल में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस की बढ़त को रोकने की मंशा से कांग्रेस और माकपा ने तीन विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए आपस में साझेदारी करने का फैसला किया है। देर शाम हुई बैठक में दोनों दलों की राज्य इकाइयों ने यह फैसला किया कि कांग्रेस उत्तरी दिनाजपुर में कालियागंज और पश्चिम मिदनापुर जिले की करीमपुर सीट से उप चुनाव लड़ेगी, वहीं माकपा नीत वाम मोर्चा नादिया जिले के करीमपुर सीट से उप चुनाव लड़ेगा। पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सामेन मित्रा ने बताया कि आज यह तय हुआ है कि कांग्रेस दो सीटों पर जबकि माकपा एक सीट पर उप चुनाव में मैदान में उतरेगी। कांग्रेस-माकपा गठबंधन से बंगाल की राजनीति में नया सवेरा आएगा। हम साथ मिलकर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस की साम्प्रदायिक राजनीति को हराएंगे। वहीं माकपा नेतृत्व इसे सिर्फ सीटों का बंटवारा बता रहा है।

मुंबई के रोड पर हुए खंडों में कांग्रेस चला रही है नाव

मुरारी सिंह, एएनएम न्यूज़, मुंबई: बृहन्मुंबई महानगरपालिका के खिलाफ कांग्रेस ने मुंबई में मोर्चा खोल दिया है। अंधेरी दादर बांद्रा हर इलाके में रोडो के ऊपर खड्डे जिसके विरोध में कांग्रेस हाथों में पोस्टर लेकर बीएमसी के उस बजट के पैसे का हिसाब मांग रही है और रोडो के खंडों पर प्लास्टिक और कागज़ के बोट चला रही है। आपको बता दें कि इन दिनों मुंबई में बरसात से तो राहत मिली है, लेकिन बरसात की वजह से हुए रोड ऊपर खड्डे मौत को दावत दे रही है। जिसे लेकर कांग्रेस आंदोलन छेड़ दी है, जगह-जगह कांग्रेस के कार्यकर्ता हाथों में पोस्टर लिए सरकार और बीएमसी के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। जबकि कुंभकरण की गहरी नींद में सोई मनपा कोई गंभीरता लेती दिखाई नहीं दे रही है। मुंबई का लिंक रोड हो या फिर यस बी रोड या फिर वेस्टर्न एक्सप्रेस हाईवे हर जगह खड्डे मौत को दावत दे रहे है।

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की मुश्किलें बढ़ी, गुजरांवाला कोर्ट से दोषी करार

एएनएम न्यूज़,डेस्क: मुंबई हमले के मास्टरमाइंड एवं आतंकी संगठन जमात-उद-दावा (JUD) के प्रमुख हाफिज सईद को गुजरांवाला अदालत ने दोषी करार दिया है। इस केस को पाकिस्‍तान के गुजरात में स्‍थानांतरित किया गया है। पाकिस्‍तानी मीडिया रिपोर्टों में यह जानकारी दी गई है। अभी हाल ही में गुजरांवाला स्थित आतंक रोधी न्यायालय (ATC) ने हाफिज सईद की न्यायिक हिरासत 14 दिन के लिए बढ़ा दी थी। इससे पहले भी अदालत ने हाफ‍िज सईद की न्‍यायिक हिरासत सात दिन के लिए बढ़ाई थी।

‘धरती के भगवान’ गए हड़ताल पर, पंजाब में इलाज न मिलने से 34 मरीजों की मौत

एएनएम न्यूज़, डेस्क: राष्ट्रीय मेडिकल आयोग (NMC) बिल, 2019 के विरोध में डॉक्टरों की हड़ताल के बीच अब मरीजों के मौत के मामले भी सामने आने लगे हैं। शनिवार शाम तक पंजाब के चंडीगढ़ में स्थित PGI आईसीयू अस्पताल में एक-दो नहीं बल्कि 34 लोगों के मौत के मामले सामने आए हैं। जानाकरी के मुताबिक इसमें से 5 एक्सीडेंटल और 29 बीमारियों से ग्रस्त मरीज थे। खबरों की मानें तो इस अस्पताल में औसतन मौतों का आंकड़ा 10 से 12 रहता है लेकिन शनिवार को यहां 34 लोगों की मौत हो गई। कारण रेजीडेंट डॉक्टरों की हड़ताल को बताया जा रहा है। दरअसल PGI के ट्रॉमा, इमरजेंसी जैसी यूनिट में मरीजों की देख रेख सीनियर रेजीडेंट के डॉक्टर ही करते हैं लेकिन हड़ताल की वजह से इन मरीजों की देखरेख नहीं हो पाई जिसकी वजह से मौतों का आंकड़ा एक दम बढ़ गया।

10 अगस्त को होगी कांग्रेस CWC की बैठक, नए अध्यक्ष पर फैसला संभव

एएनएम न्यूज़, डेस्क : कांग्रेस की सर्वोच्च इकाई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक 10 अगस्त को होगी। माना जा रहा है कि इस बैठक में पार्टी के नए अध्यक्ष पर फैसला हो सकता है। राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद अब पार्टी में इस बात की कशमकश चल रही है कि पार्टी का अगला अध्यक्ष कौन होगा। इसको लेकर कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक के लिए जद्दोजहद तेज हो गई है। लेकिन नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए CWC की बैठक में कौन शामिल होगा इसका सस्पेंस बना हुआ है।