3 जुलाई को रांची की अदालत में हाजिर होंगे राहुल गांधी

एएनएम न्यूज़, डेस्क : रांची की एक अदालत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ ‘चैकीदार चोर है’ का नारा लगाने के चलते कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ दर्ज 20 करोड़ रुपये की मानहानि के मामले में उन्हें समन जारी कर तीन जुलाई को अदालत में हाजिर होने का आदेश दिया है। रांची के न्यायिक दंडाधिकारी कुमार विपुल की अदालत में सोमवार को मुकदमे की सुनवाई हुई। सुनवाई के बाद अदालत ने राहुल गांधी के खिलाफ समन जारी करते हुए उन्हें तीन जुलाई को अदालत में हाजिर होकर या अधिवक्ता के माध्यम से अपना पक्ष रखने का आदेश दिया। इस संबंध में एक स्थानीय अधिवक्ता प्रदीप मोदी ने अदालत में मुकदमा दर्ज कराया है।

पश्चिम बंगाल में ‘भूकंप’, एक और जिला परिषद पर भाजपा का कब्जा

एएनएम न्यूज़, डेस्क: बिना चुनाव लड़े पश्चिम बंगाल में एक और जिला परिषद पर भाजपा का कब्जा हो गया है। दक्षिण दिनाजपुर जिले में तृणमूल कांग्रेस को झटका देते हुए पार्टी के वरिष्ठ नेता बिप्लब मित्रा भी भाजपा में शामिल हो गये। मित्रा के अलावा, दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद के 18 में से 10 सदस्य और तृणमूल कांग्रेस के विधायक विल्सन चांपरामेरी दिल्ली में भाजपा में शामिल हो गये।
दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय, पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष तथा पार्टी महासचिव और राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्टी में शामिल हुए।

अपने स्वास्थ्य मंत्री से जबरन इस्तीफा लेंगे CM नीतीश?

एएनएम न्यूज़, डेस्क : बिहार में चमकी बुखार से हो रही मौतों के सिलसिले में जहां थोड़ी कमी हो रही है, वहीं इस मुद्दे पर सियासत परवान चढ़ने लगी है। विपक्ष के हमलों के बीच अब बिहार सरकार के भीतर भी खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं। सूत्रों से मालूम पड़ा है कि बिहार के सीएम नीतीश कुमार प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का इस्तीफा मांग रहे हैं। दरअसल मुख्यमंत्री का मानना है कि चमकी बुखार से हुई बच्चों की मौतों के मसले पर बुरी तरह घिर चुकी बिहार सरकार को इस इस्तीफे से थोड़ी राहत मिल सकती है। सीएम का मानना है कि चमकी बुखार का मामला सीएम से अधिक संबंधित स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी थी, और यह मंगल पांडे के ही जिम्मे है।

इस्तीफा देने पर अड़े राहुल गांधी

एएनएम न्यूज़, डेस्क: राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं। इस बीच कांग्रेस ने सभी राज्यों में प्रदेश कमिटियां भंग कर दी है। बता दें कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी के हाथों मिली करारी हार के बाद राहुल गांधी ने अपने इस्तीफे का ऐलान किया था। पार्टी ने उन्हें मनाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन राहुल गांधी अपनी जिद पर अड़े हुए हैं। मां सोनिया गांधी और बहन प्रियंका समेत वरिष्ठ नेताओं के समझाने के बाद आखिरकार राहुल एक महीने के लिए अध्यक्ष बने रहने पर राजी हो गए हैं। लेकिन, इस दौरान वह पार्टी की किसी मीटिंग में नहीं शामिल हो रहे हैं। बड़े फैसले से भी दूरी बना रखी है।

एस जयशंकर औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हुए

एएनएम न्यूज़, डेस्क: विदेश मंत्री एस जयशंकर भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा की मौजूदगी में सोमवार को औपचारिक रूप से पार्टी में शामिल हो गये। अनुभवी राजनयिक और पूर्व विदेश सचिव जयशंकर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेश मंत्री के तौर पर अपनी सरकार में शामिल किया है। उन्हें गत 30 मई को अन्य लोगों के साथ मंत्री पद की शपथ दिलायी गयी थी। भाजपा उन्हें गुजरात से राज्यसभा के लिए उम्मीदवार बना सकती है। उन्हें शपथ लेने के छह महीने के भीतर संसद के किसी भी सदन का सदस्य बनना है।

बिजली-पानी को लेकर कांग्रेसियों ने बोला हल्ला, सीएम आवास का किया घेराव

एएनएम न्यूज़, डेस्क : झारखंड प्रदेश कांग्रेस ने सोमवार को मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया। रोजगार, बिजली, पानी, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि जैसी बुनियादी सुविधाओं को लेकर पार्टी ने सीएम आवास का घेराव किया। इसमें कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

हालांकि पुलिस ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को बेरिकैडिंग कर रोकने का प्रयास किया। असफल होने पर लाठियां भी चटकाईं। सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर बस में भर कर थाने ले जाया गया।

कट मनी के खिलाफ आसनसोल कमिश्नर ऑफिस के सामने भाजपा का प्रदर्शन

राहुल पासवान, एएनएम न्यूज़,आसनसोल : सैकड़ो की तायदाद में आसनसोल दुर्गापुर कमिसनरिएट ऑफिस का किया घेराव पश्चिम बंगाल के आसनसोल में आज सैकड़ो की तायदाद में भाजपा समर्थको ने आसनसोल दुर्गापुर कमिसनरिएट का घेराव कर जमकर कट मनी के खिलाफ प्रदर्सन कर रहे है। भाजपा समर्थको का कट मनी के खिलाफ ये प्रदर्सन पूरे राज्य में चल रहा है भाजपा सरकारी कर्मचारियों व राज्य के सत्ताधारी पार्टी तृणमूल के नेताओं और मंत्रियों की सरकारी योजनाओं में किए गए भरस्टाचार को लेकर राज्य के तमाम जिलों के कमिसनरिएट ऑफिसों का घेराव कर प्रदर्सन कर रही है यहीं नही भाजपा तमाम सरकारी योजनाओं में हुवे भ्रस्टाचार का लिखित शिकायत पुलिस को सौंप भरस्टाचारियो के खिलाफ करवाई की मांग कर रही है। हालांकि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी भी सरकार योजनाओं में हुवे भ्रस्टाचार के खिलाफ एक्सन में है। उन्होंने पहले ही सभी सरकारी कर्मचारियों और नेताओं मंत्रियों को चेतावनी दे दी है के जिन्होंने भी कट मनी ली है। वो वापस करे और कट मनी का कारोबार बंद करे नही तो उनलोगों को जेल भेजा जाएगा।

‘कट मनी’ गाना सोशल मीडिया पर वायरल, बाबुल सुप्रियो ने गायक को दिया धन्यवाद

एएनएम न्यूज़, डेस्क : लोकप्रिय बंगाली गायक नचिकेता चक्रवर्ती का एक गाना ‘कट मनी’ सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो ने इसकी सराहना की और लोगों के ‘अंत: विचारों’ को सामने लाने के लिए गायक को धन्यवाद दिया।
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हाल ही में अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को चेतावनी दी थी कि सरकारी योजनाओं के लिए मंजूर धनराशि में अपना हिस्सा मांगने वाले लोगों को सलाखों के पीछे डाल दिया जायेगा, जिसके बाद ‘कट मनी’ गाना चर्चा में बना हुआ है। यह गीत लोगों और राजनीतिक नेताओं से अपील करता है कि जिन्होंने भी ऐसी राशि ली है, खुद को ‘जनाक्रोश’ से बचाने के लिए तुरंत पैसा लौटा दें। भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने एक ट्वीट में कहा, ‘नचिकेता दा ने अपने गीत में लोगों के अंत: विचारों को व्यंग्य के माध्यम से बाहर लाया है। यह व्यंग्य का सटीक उदाहरण है।’

गडकरी से मिले सनी देओल, पुल निर्माण के लिए 132 करोड़ जारी करने को कहा

एएनएम न्यूज़,डेस्क: लोकसभा चुनावों में शानदार जीत दर्ज करने के बाद सनी देओल अब गुरदासपुर के लोगों की समस्याओं पर ध्यान देना शुरू किया है। इसी के चलते उन्होंने केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की। इस दौरान सनी ने गडकरी से मुलाकात कर रावी नदी पर दो पुल बनाने के लिए पहले से स्वीकृत फंड को जारी करने का अनुरोध किया। इस संबंध में स्‍थानीय लोगों ने सनी देओल से बात की थी और समस्या को सुलझाने का आग्रह किया था। सनी ने इस दौरान इस समस्या को जल्द ही खत्म करने का आश्वासन भी दिया था। जिसके बाद सनी ने सबसे पहले इसी समस्या को गडकरी के सामने रखा और गडकरी ने भी जल्द ही फंड रिलीज करने का आश्वासन दिया। जो अब जल्द ही रिलीज होगा।

भ्रष्ट अफसरों पर लगाम कसने के बाद पीएम मोदी का मंत्रियों को कड़ा निर्देश

एएनएम न्यूज़, डेस्क: मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत में भ्रष्टाचार में लिप्त पाए गए अफसरों की छुट्टी करनी शुरू कर दी है। आयकर विभाग के 27 अधिकारियों को समय से पहले रिटायर्ड करने के बाद सरकार अभी और सख्ती बरतने के मूड में दिखाई दे रही है। केंद्र सरकार ने अब भ्रष्ट और लापरवाह कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाने के लिए बैंकों और अन्य सार्वजनिक उपक्रमों के अलावा सभी विभागों से अपने कर्मियों के सर्विस रिकॉर्ड की समीक्षा करने को कहा है।

कार्मिक मंत्रालय ने सभी मंत्रालयों को एक परिपत्र जारी करते हुए अधिकारियों के कामकाज की समय-समय पर समीक्षा करने को कहा है। कुछ दिनों पहले ही सरकार ने आयकर विभाग के 27 अधिकारियों को जबरन रिटायर्ड कर दिया था। ये सभी अधिकारी रिश्वत, भ्रष्टाचार और उत्पीड़न सहित कई गंभीर मामलों में आरोपी थे। कार्मिक मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देश में कहा गया है कि सभी मंत्रालयों और विभागों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि एक सरकारी कर्मचारी को जनहित में समय से पहले सेवानिवृत्त करने जैसी निर्धारित प्रक्रिया का कड़ाई से पालन हो और ऐसा निर्णय मनमाना ना हो। सभी सरकारी संगठनों को प्रत्येक महीने की 15 तारीख को रिपोर्ट देने को कहा गया है। इस समीक्षा की शुरूआत 15 जुलाई 2019 से होगी।